Search
  • Samphia Foundation

संफू की कहानी:- साम्फिया फाउंडेशन, प्रायोजित ए० डी० हाइड्रो लिमिटेड प्रीणी , मनाली


अंतर्राष्ट्रीय कुल्लू दशहरा जहां ज़िला कुल्लू व अन्य साथ के लगते ज़िलों से सैंकड़ो देवी देवता अपने हरियानों के साथ रघुनाथ जी के द्वारा में हाज़िरी लगाते हैं वहीं विश्व के कोने-कोने से लोग देवताओं के आशीर्वाद लेने व दशहरा उत्सव में विभिन्न तरह की ख़रीददारी करते हैं ।

ऐसे में बहुत से लोग ये देख कर भी हैरान है कि मेले के दौरान संफू नाम का डम्मी (प्रसिद्ध कार्टून डोरेमॉन) शाम के समय मॉल रोड़ में टहलता है,जिसके साथ कुछ और साथी पैम्पलेट बाँटते हुए चलते हैं ।

वास्तव में ये डम्मी ज़िला कुल्लू के आश बाल विकास केंद्र द्वारा चलाया जा रहा है ये केंद्र सांफिया फाउंडेशन का एक उपक्रम है ।

सांफिया फाउंडेशन दिव्याँग बच्चों के विकास के लिए काम करता है और इसकी तीन मुख्य सेवाओं में से एक "समावेशी कार्यक्रम" है जिसके अन्तर्गत विशेष तौर पर जागरूकता के विषय पर कार्य किया जाता है ताकि हम जितना हो सके उतनी ज़्यादा जागरूकता दिव्यांगता के विषय में फैला सकें ।

"हमारा प्रयास है कि हम दिव्याँग जनों के लिए एक समावेशी दुनियाँ का निर्माण कर सकें"

हम धन्यवादी हैं ए डी हाइड्रो पॉवर लिमिटेड मनाली के जिनके सौजन्य से हम इस तरह की गतिविधियाँ आयोजित कर पाते हैं ।






























3 views0 comments